शिक्षा

भारतीय नौसेना

असैनिक जगत के अन्य व्यवसायों की तुलना में भारतीय नौसेना नवयुवकों और युवतियों को करियर का बेहतर अवसर प्रदान करती हैI

The Indian Navy

इस कार्य के बारे में जानकारी

शिक्षा अफ़सर नौसेना कार्मिकों की शिक्षा प्रशिक्षण और पेशेवर विकास में सहायता मुहैया कराते हैंI

भारतीय नौसेना के शांति कालीन मुख्य कार्यों में से एक है भविष्य के मिशनों की तैयारी करना, जिसमें नौसेना कार्मिकों का निरन्तऱ प्रशिक्षण शामिल हैंI किसी भी मिशन की सफलता का प्रमुख निर्धारक अफसरों और नौसेनिकों को दिया जाने वाला प्रशिक्षण होता हैI इस तरह से शिक्षा अफ़सर भारतीय नौसेना में अफसरों और नौसेनिकों को प्रशिक्षण प्रदान करने की महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैंI शिक्षा अफ़सर वैज्ञानिक और पद्धति संबंधी शिक्षण के लिए भी ज़िम्मेदार होता है इसमें नौसेना की सभी शाखाओं के तकनीकी विषयों का सैद्धांतिक पक्ष भी शामिल है और नौसेना के कार्मिकों की सामान्य शैक्षिक समुन्नति भी शामिल हैI

कार्य का माहौल

शिक्षा अफ़सर विविध भारतीय नौसेना प्रशिक्षण स्थापनाओं में अनुदेश देते हैं इसमें एजिमाला की प्रतिष्ठित भारतीय नौसेना अकादमी (आई एन ए) शामिल हैंI शिक्षा अफ़सर आई एन ए में बी. टेक का प्रशिक्षण ले रहे नौसेना के क़ैडेटो को विज्ञान, तकनीकी और सर्विस विषयों की शिक्षा देने की ज़िम्मेदारी निभाते हैंI शिक्षा अफ़सर, अफसरों को आई एन एस वॉलसुरा और आई एन एस शिवाजी जैसे तकनीकी प्रशिक्षण स्थापनाओं में आरंभिक और विशेषज्ञता कोर्सों के दौरान अनुदेश प्रशिक्षण भी देते हैंI इसके अतिरिक्त शिक्षा अफ़सर नौसेनिकों को सेवा में उनके कैरियर में प्रगति के लिए कोचिंग और मार्ग दर्शन देते हैं, साथ ही इन्हें विविध उच्चतर शिक्षा कोर्स पूरा करवाकर उनके पुर्नवास के अवसरों को बढ़ाने का मौका भी प्रदान करते हैंI शिक्षा अफ़सर नवीनतम प्रौद्योगिकी का प्रयोग करके अखिल भारतीय स्तर के विविध सेवाकलीन ओनलाइन और ऑफलाइन विधियों से अफसरों और नौसेनिकों की परीक्षाएँ आयोजित करने की ज़िम्मेदारी भी उठाएँगेI

नौसेना कार्मिकों के शैक्षणिक, पेशेवर और मनोरंजानात्मक ज़रूरतों को पूरा करने के लिए बहुत बड़ी संख्या से नौसेना सन्दर्भ पुस्तकालयों को पोत पर और विविध नौसेना स्थापनाओं में खोला गया हैI शिक्षा अफ़सर इन पुस्तकालयों में नवीनतम तकनीक और प्रौद्योगिकी की स्थापना करने उनके कार्यान्वयन और प्रयोग में लाने के लिए ज़िम्मेदार होते हैंI

शिक्षा अफसरों का एक विशिष्ट और महत्वपूर्ण कार्य है राजभाषा अधिनियम, 1963 का कार्यान्वयन करना और राजभाषा विनियय 1976 के अनुसार सरकारी कार्य में हिन्दी के प्रयोग को बढ़ावा देना और इसकी प्रगति को मॉनिटर करनाI

शिक्षा अफ़सर समुद्री ऑपरेशनों के लिए मौसम विज्ञान / समुद्री विज्ञान संबंधी सेवा सहायता भी मुहैया कराते हैंI

उच्चतर रैंक के चयनित शिक्षा अफसरों को भारत में चल रहे विभिन्न सैनिक विद्यालयों का प्रधानाचार्य और उप-प्रधानाचार्य भी नियुक्त किया जाता हैI

प्रशिक्षण और उन्नति

अभ्यर्थियों को सब-लेफ्टिनेंट के रैंक के अफ़सर के रूप में भर्ती किया जाता है और वे भारतीय नौसेना अकादमी, एजिमाला में नौसेना के अभिविन्यास कोर्स में हिस्सा लेते हैं और उसके बाद उन्हें विभिन्न नौसेना प्रशिक्षण स्थापनाओं / यूनिटों पोतों में पेशेवर प्रशिक्षण के लिए भेजा जाता हैI

शिक्षा के अवसर

कुछ शिक्षा अफसरों को विभिन्न आई आई टी / एन आई टी में एम टेक कोर्स के लिए प्रतिनियुक्त किया जाता हैI शिक्षा अफ़सर भी अनेक प्रकार की श्रेणी में विशेषज्ञता कोर्स के लिए जाते हैंI इसमें पनडुब्बी रोधी युद्ध पद्धति, नौसेना संचार-व्यवस्था, गनरी, जल सर्वेक्षण, नौचालन एवं दिशा - निर्देशन, मौसम विज्ञान और समुद्री विज्ञान शामिल हैI

अर्हता एवं अपेक्षा

किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से भौतिकी या गणित में द्वितीय श्रेणी में स्नातकोत्तर डिग्रीI भौतिकी में स्नातकोत्तर डिग्री वाले अभ्यर्थी के पास कम से कम स्नातक स्तर पर पूरक विषय के तौर पर गणित होना चाहिए और गणित में स्नातकोत्तर डिग्री वालों ने स्नातक स्तर पर पूरक विषय के रूप में भौतिकी को पढ़ा होना चाहिएI

या

किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से रसायन या अँग्रेज़ी विषय में द्वितीय श्रेणी में स्नातकोत्तर डिग्री रसायन में स्नातकोत्तर डिग्री वाले अभ्यर्थी ने कम से कम स्नातक स्तर पर पूरक विषय के रूप में भौतिकी विषय पढ़ा हो और अँग्रेज़ी में स्नातकोत्तर डिग्री वाले अभ्यर्थी ने इंटरमीडीयट या समतुल्य स्तर पर भौतिकी या गणित विषय पढ़ा होI

या

निम्नलिखित विषयों में से किसी एक में स्नातक है:-

या

कंप्यूटर एप्लिकेशन या कंप्यूटर साइंस में किसी मान्यता प्राप्त विश्व- विद्यालय से द्वितीय श्रेणी में स्नातकोत्तर डिग्री अभ्यर्थी ने स्नातक स्तर पर भौतिकी या गणित विषय अवश्य पढ़ा होI

या

मानवीकी (अर्थशास्त्र / इतिहास / राजनीति विज्ञान) में किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर डिग्रीI