एसएसआर

भारतीय नौसेना

असैनिक जगत के अन्य व्यवसायों की तुलना में भारतीय नौसेना नवयुवकों और युवतियों को करियर का बेहतर अवसर प्रदान करती हैI

The Indian Navy

इस कार्य के बारे में जानकारी

नौसैनिक के रूप में आप उच्च स्तरीय तकनीकी संगठन का हिस्सा बनोगे आपको शक्ति शालि आधुनिक पोतों जैसे एयर क्राफ्ट करियर, गाइडेड मिसाइल डिसट्रायर और फ्रिगेट - पुनर्मरन पोत और उच्च स्तरीय तकनीक और आकर्षक पनडुब्बियां और एयर-क्राफ्ट में अपनी सेवाएँ देनी होंगीI

काम का माहौल

कार्य को विभिन्न टीमों में बाँटा जाता है जो विभिन्न प्रकार के कार्य करती हैI यह विविध उपस्कर जैसे रडार, सोनार या स्प्रेषण उपस्करों के ऑपरेशन का कार्य होता है या हथियारों की फायरिंग जैसे मिसाइल, गन या रॉकेट छोड़नाI

प्रशिक्षण और प्रगति

चयनित अभ्यर्थियों को आई एन एस चिल्का में 22 साप्ताह का मूल प्रशिक्षण दिया जाएगा और इसके बाद उन्हें आबंटित ट्रेड में प्रोफेशनल प्रशिक्षण दिया जाएगाI जिसके लिए इन्हें विभिन्न नौसेना प्रशिक्षण स्थापनाओं में भेजा जाएगा शाखा / ट्रेड सेवा की ज़रूरत के अनुसार आवंटित की जाएगीI

शिक्षा के अवसर

आप सेवा की ज़रूरतों के अनुसार विभिन्न प्रोफेशनल कोर्सों को कर सकते हैं और विभिन्न विश्वविद्यालयों से समकक्ष अर्हताओं के प्रमाण पत्र कोर्सों के सफलतापूर्वक पूरा हो जाने पर आपको दिए जाते हैंI आपको 15 वर्षों की सेवा की समाप्ति के बाद सेवानिवृत्ति पर "स्नातक के समतुल्य प्रमाण पत्र" दिया जाएगाI

अर्हता और अपेक्षा

10+2 / समतुल्य परीक्षा में गणित और भौतिकी उत्तीर्ण हों और इन विषयों में से कम से कम किसी एक विषय रसायन/ जीव विज्ञान/ कंप्यूटर विज्ञान भी उत्तीर्ण किया होI

भर्ती के दिन एसएसआर अभ्यर्थी की आयु 17-20 वर्ष की होI

लिखित परीक्षा पाठ्यक्रम